उत्तराखंड : पुलिस विभाग का बड़ा कारनामा, कर दिया मृतक पुलिसकर्मी का ट्रांसफर

नैनीताल : नैनीताल पुलिस विभाग से गजब का कारनामा सामने आया है जिससे खुद पुलिसकर्मी भी हैरान हैं। आपको बता दें कि बीते दिन नैनीताल में तैनाती की समय अवधि पूरी कर चुके 372 पुलिस कर्मियों का रविवार को ट्रांसफर किया गया और आदेश जारी किया गया लेकिन लिस्ट देख कर सब हैरान रह गए।

हुआ यूं कि आईजी कार्यालय से जारी ट्रांसफर लिस्ट में ऐसे पुलिसकर्मी का नाम भी शामिल था जिसकी मौत हो चुकी है। खुद पुलिसकर्मी ये देख हैरान रह गए और विभाग पर ही सवाल खड़े किए। कर्मियों का आरोप है कि नियमावली के विरुद्ध लंबे समय से चुनिंदा पुलिसकर्मी सुगम क्षेत्रों में जमे हुए हैं, जबकि 10 वर्षों तक दुर्गम क्षेत्र में ड्यूटी कर चुके कर्मियों को दोबारा दुर्गम क्षेत्रों में ही ट्रांसफर कर दिया गया है।

बता दें कि आईजी कार्यालय से मंडल के छह जिलों मैं तैनात 372 कांस्टेबल और हेड कांस्टेबल की ट्रांसफर लिस्ट जारी गई थी। जिसमें एक ही जिले में निर्धारित समयवधि पूरी कर चुके 362, जबकि 10 कर्मियों का अनुकंपा के आधार पर ट्रांसफर किया गया था। इस लिस्ट को देख विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई। लिस्ट में एक ऐसे पुलिसकर्मी का नाम शामिल किया गया था जिसकी एक सप्ताह पहले ही मौत हो गई है। जवान की तैनाती पुलिस लाइन में थी। कर्मी की मौत के बावजूद लिस्ट में उसका नाम शामिल कर दिया गया। मामले में आईजी अजय रौतेला का कहना है कि जिलों से मिली सूची के आधार पर ही अंतिम सूची जारी की गई है। जिसमें त्रुटिवश एक मृत कर्मी का नाम शामिल हो गया है। सूची को संशोधित करने के निर्देश कर्मियों को दे दिए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here