कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में हिस्सा लेने जा रही विवाहित महिलाओं की बढ़ी मुश्किल, मेहंदी है कारण

कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में महिलाएं के लिए एक नई मुसीबत खड़ी हो गई है वो भी नए नियम के कारण। जी हां बता दें कि हम बात कर रहे हैं राजस्थान पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा की जिसमे एक नया नियम लागू किया गया है जिससे विवाहित महिलाओं की मुश्किलें बढ़स कती है। बता दें कि बुधवार को करवा चौथ के अवसर पर अगर वह हाथों पर मेहंदी लगाती हैं तो उन्हें कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में बैठने से वंचित होना पड़ सकता है।

हाथों की मेहंदी खड़ी कर सकती है मुसीबत

आपको बता दें कि परीक्षा के आयोजन से 4 दिन पहले राजस्थान पुलिस महानिदेशक ने 6, 7 एवं 8 नवम्बर को 2020 होने वाली कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यार्थियों को अपने हाथ के दोनों अंगूठे स्वच्छ रखने के निर्देश दिए गए थे। आधिकारिक वेबसाइट www.police.rajasthan.gov.in पर जारी नोटिस में कहा गया है कि परीक्षा केंद्रों पर अभ्यर्थियों की पहचान के लिए बायोमेट्रिक थंब इम्प्रेशन लिया जाएगा। ऐसे में सभी अभ्यर्थियों को अपने दोनों हाथों के अंगूठे स्वच्छ रखें, इन पर मेहंदी-स्याही, पेन्ट या रंग वगैरह न लगाएं। लेकिन करवा चौथ के कारण कई महिलाओं ने हाथों पर मेहंदी लगाई और जो उनके लिए मुसीबत बन सकता है.

राजस्थान पुलिस की 5438 कांस्टेबल भर्ती के लिए 6 नवंबर से शुरू होने वाली परीक्षा के एडमिट कार्ड जारी कर दिए गए हैँ। इस भर्ती परीक्षा के लिए अभ्यर्थी police.rajasthan.gov.in पर जाकर अपने प्रवेश पत्र डाउनलोड कर सकते हैं। इस भर्ती के लिए करीब 17 लाख उम्मीदवारों ने आवेदन किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here