उत्तराखंड : तिरंगे में लिपटे पहुंचे बेटे को देख मां बेसुध, पिता ने दिखाई हिम्मत, हाथ जोड़कर जताया सरकार-सेना का आभार

देहरादून : शहीद हवलदार राजेंद्र सिंह नेगी का पार्थिव शरीर बुधवार देर शाम देहरादून लाया गया। श्रीनगर से विशेष विमान से पार्थिव शरीर को जौलीग्रांट लाया गया। इसके बाद सेना के वाहन से मिलिट्री अस्पताल ले जाया गया। जहां से आज सुबह पार्थिव शरीर को शहीद के अंबीवाला स्थित घर पर लाया गया। लोगों को खासी भीड़ शहीद को श्रद्धांजलि देेने के लिए जमा हुई। सीएम भी शहीद के आवास में शहीद को श्रद्धांजलि देने पहुंचे। इस दौरान पति को ताबूत में देख पत्नी चीख-चीख कर रोने लगी और मां बेसुध हो गई। आसपड़ोस के लोगों ने उन्हें ढांढस बंधाया। वहीं पिता ने हिम्मत दिखाई। एक पिता ने अपना सैनिक बेटा खोया है उसका गम पिता को है तो लेकिन पिता को बेटे की शहादत पर गर्व भी है। पिता ने गर्व जताते हुए ढांढस बांधा औऱ हिम्मत दिखाई। शहीद के पिता सीएम से हाथ जोड़ते हुए नजर आए। शहीद के पिता ने सरकार और सेना का आभार जताया कि 8 महीने बाद ही सही लेकिन उनके बेटे का पार्थिव शरीर उनको सौंपा।

शहीद के पिता ने सीएम से मदद की मांग की। वहीं सीएम ने शहीद के पिता को हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया। सीएम ने कहा कि सरकार शहीद के परिवार के साथ है। सरकार द्वारा शहीद के परिवार की हर संभव मदद की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here