ब्रेकिंग : भगत ने सम्मान के साथ लिया अपना बयान वापस, बेटा बोला-मुझे गर्व है की मैं बंशीधर भगत जी का बेटा

देहरादून : भीमताल में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत की नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश पर टिप्पणी को लेकर बवाल मचा हुआ है। बुधवार को कांग्रेसियों ने मैदान से लेकर पहाड़ तक भगत का पुतला फूंककर विरोध-प्रदर्शन किया। कांग्रेसियाें का कहना है कि जिम्मेदार पद पर रहते हुए भगत का महिलाओं के प्रति यह बयान शर्मनाक है। यह बयान महिलाओं के प्रति उनकी सोच को भी दर्शाता है। राजनीति में शब्दों की मर्यादा व गरिमा होनी चाहिए। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने भी इस बयान पर खेद जताया था और इंदिरा हृदयेश से माफी मांगी थी।सबको इंतजार था कि आखिर बंशीधर भगत कब माफी मांगेंगे। वहीं इस बीच बंशीधर भगत ने ट्वीट कर कहा कि वो अपना बयान सम्मान पूर्वक वापस लेते हैं लेकिन उन्होंने साफ तौर पर माफी नहीं मांगी।

बंशीधर भगत ने मांगी माफी

बता दें कि बंशीधर भगत ने ट्वीट कर कहा क कांग्रेस की वरिष्ठ नेत्री,नेता प्रतिपक्ष इंदिर हृदयेश जी प्रदेश की सम्मानित नेता हैं और चुनावी क्षेत्र एक होने के कारण नोकझोंक होना स्वाभाविक है। उन्हें व्यक्तिगत क्षति पहुंचाने का मेरा कोई इरादा नहीं था,अगर उन्हें क्षति पहुँची है तो मैं अपना बयान सम्मान पूर्वक वापस लेता हूँ।

बेटा बोला-मुझे गर्व है की मै श्री बंशीधर भगत जी का बेटा हूं

वहीं इस पर बंशीधर भगत के बेटे विकास भगत ने कहा कि मुझे गर्व है की मै श्री बंशीधर भगत जी का बेटा हूं। 35 साल से अधिक के राजनीतिक जीवन मे पिता जी ने किसी भी व्यक्ति का असम्मान नही किया है। पिता जी के ऊपर इतने समय से एक दाग भ्रष्टाचार का नही है।ईमानदार होना क्या होता है वो मैने अपने पिता से सीखा है।हर कार्य मे ईमानदार।चाहे पार्टी का हो या जनता का।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here