15 अगस्त को उत्तराखंड विधानसभा परिसर में लहराएगा 101 फीट ऊँचा तिरंगा

देहरादून : स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर आज शुक्रवार विधानसभा परिसर में 101 फीट ऊंचे  ध्वजापोल के निर्माण कार्य का शिलान्यास उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने किया। इस अवसर पर रायपुर विधायक उमेश शर्मा काऊ, राजपुर विधायक खजान दास एवं मसूरी विधायक गणेश जोशी भी मौजूद रहे। बता दें कि विधानसभा अध्यक्ष ने इसी साल 22 जुलाई को तिरंगा अंगीकार दिवस के अवसर पर  विधानसभा परिसर में ध्वजारोहण के लिये 101 फीट ऊंचा पोल लगाने की घोषणा की थी, जिसका आज से आधार स्तंभ का निर्माण कार्य प्रारंभ हो रहा है। यह तिरंगा झंडा 20 फीट चौड़ा और 30 फीट लंबा होगा। इसके साथ  झंडे के लिए फोकस्ड लाइट्स भी लगाई जाएंगी। इसका सीधा फोकस  तिरंगे पर पड़ेगा। हाइमास्क पोल पर लाइट लगाने के बाद रात की रोशनी में देश का राष्ट्रीय ध्वज खूबसूरत नजर आएगा।

इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि  प्रदेश की सर्वोच्च संवैधानिक संस्था में देश की आजादी एवं उसकी आन बान और शान का प्रतीक तिरंगा ध्वज राष्ट्र के प्रति सम्मान और देश भक्ति की भावना को जाग्रत करने के उद्देश्य से लगाए जाने का निर्णय उनके द्वारा लिया गया था।

उन्होंने कहा कि हमारे गर्व, शक्ति एवं गौरव का प्रतीक हमारा राष्ट्रीय ध्वज शांति, समृद्धि और सदैव विकास के पथ पर अग्रसर रहने की प्रेरणा देता है। हर कोई इस झंडे के लिए आहुति देने को तैयार रहता है। इस झंडे को देखकर आम लोगों में राष्ट्रीयता की भावना जागेगी। देश के लिए मरने मिटने की प्रेरणा मिलेगी। तिरंगा झंडा लग जाने के बाद इसे देख आते-जाते लोग खुद को गौरवान्वित महसूस करेंगे।

विधानसभा अध्यक्ष ने इस अवसर पर कहा कि उनके स्पीकर बनने के बाद कई नई पहल की गई है, जिसमें तंबाकू गुटके का निषेध, प्रत्येक माह की 21 तारीख को योग कार्यक्रम, पर्यावरण दिवस पर पौधरोपण कार्यक्रम, विधानसभा परिसर की बाहरी दीवार पर नंदा देवी राजजात का भित्ति चित्र लगाने सहित कई नये कार्य किए गए हैं। इसी कड़ी में 101 फीट ऊंचा तिरंगा झंडा विधानसभा परिसर में लहराने का काम भी उनके द्वारा किया जा रहा है।

इस अवसर पर विधानसभा के प्रभारी सचिव मुकेश सिंघल, उपसचिव चंद्र मोहन गोस्वामी, वरिष्ठ निजी सचिव अजय अग्रवाल, अनुसचिव नीरज थापा, अनुसचिव मनोज कुमार, रत्ना पंत सुरक्षा अधिकारी प्रदीप गुणवंत, हेम गुरानी, वंदना हरिव्यासी सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी गण मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here