मलबे ने अब भी रोक रखा है तीर्थयात्रियों का रास्ता

बड़कोट(उत्तरकाशी)-  यमनोत्री धाम और श्रद्धालुओं के बीच रोड़ा बना बोल्डर और मलबा अब तक पूरी तरह से नहीं हट सका है। हालांकि पिछले 22-23 घंटों से लगातार SDRF और PWD की टीम मशक्कत कर रही हैं।

जबकि यात्रियों की आवाजाही  वैकल्पिक मार्ग से करवाई जा रही है। गौरतलब है कि बीते रोज यमनोत्री पैदल मार्ग पर भैरव मंदिर से पहले भस्खलन के चलते पहाड़ी दरक कर रास्ते में आ गई। जिसकी वजह से बोल्डर और मलबे ने तीर्थयात्रियों का रास्ता रोक दिया।जिसके चलते कुछ तीर्थयात्रियों ने वापस जानकीचट्टी का रुख किया तो कुछ दुस्साहासी तीर्थयात्रियों ने जोखिम की परवाह न करते हुए यमनोत्री धाम की ओर कदम बढ़ाए।

सबसे गजब की बात तो ये है कि सोमवार आधी रात के बाद हुए इस भूस्खलन की सूचना लोकनिर्माण विभाग को न जाने कब मिली लेकिन महकमे की टीम मय अधिकारियों समेत मंगलवार दोपहर बाद ही मौके पर पहुंची। वहीं बोल्डर को तोड़ने के लिए जिला प्रशासन ने जिस मशीन को मौके पर बुलाया वह भी देर शाम मौके पर पहुंची।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here