जब राज्य कर्मचारी दम्पति की हो सकती है एक जगह पर पोस्टिंग तो MP-MLA, मंत्री की क्यों नहीं

अल्मोड़ा- उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी ने कहा है कि जब राजकीय कर्मचारी पति-पत्नी एक ही स्थान में पोस्टिंग में एक साथ रह सकते हैं, तो एमपी- एमएलए, मंत्री अपनी पत्नी को साथ क्यों नहीं रख सकते। उनको भी साथ रहने का अधिकार मिलना चाहिए।

सांसद कोश्यारी ने कहा कि सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत बेहद अच्छा काम कर रहे हैं। जब उनसे पूछा गया कि जनता दरबार में एक शिक्षिका पर सीएम भड़क गए, इस पर कोश्वारी बोले यह घटना अप्रिय थी। पहले तो एक राजकीय शिक्षिका को जनता दरबार में जाना नहीं चाहिए था। शिक्षिका अपनी सीमा से बाहर गईं, तो मुख्यमंत्री ने उन्हें डांट दिया। सांसद ने उल्टे सवाल किया कि क्या ऐसे में मुख्यमंत्री को उन्हें गले लगाना चाहिए था।

कोश्यारी ने शिक्षिका उत्तरा पंत बहुगुणा प्रकरण पर कहा कि एक राजकीय शिक्षिका को जनता दरबार में नहीं जाना चाहिए था। यदि मुख्यमंत्री ने शिक्षिका को फटकार लगा भी दी तो इसे न जाने क्यों इतना बढ़ा मुद्दा बना दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here