उत्तरकाशी : यमुनोत्री यात्रा मार्ग पर तीन तीर्थयात्रियों की हार्ट अटैक से मौत

उत्तरकाशी: यमुनोत्री यात्रा मार्ग पर तीन यात्रियों की हृदय गति रुकने से मौत हुई है। इनमें एक यात्री तेलांगना और दूसरा जौनपुर उत्तर प्रदेश और तीसरी राजस्थान की महिला है।

जानकारी के अनुसार मंगलवार की शाम तेलांगना के यात्रियों का दल बडकोट से जानकी चट्टी पहुंचा। रात को यह दल जानकी चट्टी के एक होटल में रूका। रात के समय अकुला राजमणी (60) पत्नी गंगाधर निवासी निर्मल तेलांना की तबियत खराब हुई। जब तक अन्य यात्री कुछ कर पाते तब तक वृद्धा यात्री ने दम तोड़ दिया। चिकित्सकों ने यात्री की मौत का कारण हृदय गति रुकना बताया।

वहीं मंगलवार की रात को दूसरी घटना खरादी के पास हुई। जानकारी के अनुसार जौनपुर उत्तर प्रदेश के यात्रियों का दल बडकोट के निकट खरादी में रुका था। इस दल को यमुनोत्री जाना था। रात के समय रमाकांत (65) पुत्र तीर्थराज निवासी ग्राम डमरुआ, जिला जौनपुर उत्तर प्रदेश की तबियत खराब हुई।

परिवार के अन्य सदस्यों ने वृद्ध यात्री को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बडकोट पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उधर, जानकी चट्टी के पास यमुनोत्री जाते समय एक और यात्री की मौत हो गई है। जानकारी के अनुसार उच्छव कुंवर पत्नी शंकर सिंह निवासी बनेबडा, बघासूरी, अजमेर राजस्थान की आज सुबह यमुनोत्री जाते समय जानकी चट्टी के पास अचानक तबियत खराब हुई। जब तक परिजनों ने उसे चिकित्सालय तक पहुंचाया तब तक उनकी मौत हो गई। गौरतलब है कि अभी तक गंगोत्री व यमुनोत्री धाम की यात्रा पर आए 15 यात्रियों की मौत हृदय गति रुकने से हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here