जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में उत्‍तराखंड का जवान शहीद, गांव में छाया मातम

देहरादून- लगातार उत्तराखंड के जवान देश की रक्षा करते हुए शहीद हो रहे हैं. जम्मू कश्मीर में एक बार फिर आतंकियों ने हमला किया जिसमें उत्तराखंड का जवान मानवेंद्र सिंह शहीद हो गए. वहीं भारतीय सेना ने इस मुठभेड़ में दो आतंकियों को ढेर किया. जम्मू-कश्मीर में रमजान के पवित्र महीने में भी आतंकी वारदात थमने का नाम नहीं ले रही हैं. गुरुवार को घाटी के बांदीपुरा के पनार में आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर हमला कर दिया, जिसका सुरक्षा बलों ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया. इस मुठभेड़ में गौरसेना ने दो आतंकियों को ढेर कर दिया.

उत्तराखंड का एक जवान शहीद, रुद्रप्रयाग के निवासी

मीडिया रिपोर्ट की मानें तो इस मुठभेड़ में उत्तराखंड का एक जवान मानवेंद्र सिंह शहीद हो गए जो कि रुद्रप्रयाग जनपद के कबिल्ठा गांव के निवासी थे. जवान के शहीद होने की खबर सुनते है जवान के गांव में मातम छा गया. शहीद मानवेंद्र का पार्थिव शरीर मौके से रवाना हो गया है। आज शाम तक शहीद का पार्थिव शरीर के गांव कबिल्ठा रुद्रप्रयाग पहुंचे की उम्मीद है।

गौर हो कि बुधवार को पाकिस्तान की गोलीबारी में एक असिस्टेंट कमांडेंट समेत बीएसएफ के चार सुरक्षा कर्मी भी शहीद हुए थे, जबकि पांच सुरक्षा कर्मी घायल हो गए थे. बुधवार को शहीद हुए सुरक्षा कर्मियों में असिस्टेंट कमांडेंट जितेंद्र सिंह, सब इंस्पेक्टर रजनीश, एएसआई रामनिवास और कांस्टेबल हंसराज शामिल हैं. हाल के दिनों में घाटी में पाकिस्तान की ओर से सीजफायर और आतंकी हमले की घटनाओं में इजाफा देखने को मिला है.

इसके चलते लगातार सुरक्षा कर्मी शहीद हो रहे हैं. भारतीय सेना ने जम्मू-कश्मीर में शांति बहाली के लिए रमजान के महीने में सैन्य ऑपरेशन रोकने का फैसला लिया था, लेकिन आतंकी घटनाओं में कमी नहीं आई. इस दौरान सुरक्षा बलों पर 42 बार हमले किए. आतंकियों ने घाटी में अलग-अलग इलाकों में 19 ग्रेनेड अटैक किए, जो कि पिछले कई सालों में सबसे ज़्यादा हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here