देहरादून : ताकि सुरक्षित रहे पीछे बैठी सवारी भी, परिवहन विभाग ने खुद पहनाए हेलमेट

देहरादून(मनीष डंगवाल)- दोपहिया वाहन पर पीछे बैठी सवारी के लिए सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद जहां हेलमेट अनिवार्य कर दिया गया है, वहीं कल से इसे अनिवार्य रूप से लागू भी कर दिया जाएगा.

वहीं आज ट्रायल के तौर पर पुलिस और परिवहन विभाग की तरफ से दोपहिया वाहनों में हैेलमेट चैंकिग अभियान चलाया गया,जिसमें परिवहन विभाग की ओर से ट्रायल के दिन एक अनोखी पहल दोपहिया वाहनों में हेलमेट पहनाने को लेकर की गई…जी हां देहरादून एआरटीओ अरविंद पाण्डेय की मौजदूगी में शुरू की गई इस पहल के तहत जिन दोपहिया वाहनों में पीछे बैठी सवारी ने हेलमेट नहीं पहना हुआ था, उनका 100 रूपये का चालन काट कर दूसरी सवारी को हेलमेट पहनाया गया।

जागरूकता के लिए बांटे हैलमेट – एआटीओ

परिवहन विभाग की ओर से शुरू की गई इस पहल को लेकर एआरटीओ अरविंद पाण्डेय का कहना कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत दोपहिया वाहन पर पीछे बैठी सवारी के लिए हैलमेट अनिवार्य कर दिया गया है। परिवहन विभाग सख्ती के साथ इसे लागू करेगा। इसी के तहत आज लोगों को हेलमेट के महत्व को समझाया भी है कि चालान से बचाने के लिए हेलमेट का प्रयोग नहीं बल्कि सुरक्षा को देखते हुए हेलमेट का प्रयोग करें. ताकि आपकी जिंदगी सुरक्षित रहे. जिससे सड़क हादसों में लोगों की जान न जाए।

चालान के बदले पिछली सवारी को हैलमेट देने को लेकर अरविंद पाण्डेय कहते हैं कि हेलमेट देकर एक संदेश देने की कोशिश विभाग की ओर से की गई है कि ताकि लोग ये समझे की कि केवल वाहन चलाने वाले व्यक्ति के लिए ही नहीं पीछे बैठी सवारी के लिए भी हैलमेट जरूरी है। सीएसआर बजट के तहत विभाग पीछे बैठी सवारी के लिए जागरूकता के लिए हेलमेट प्रदान कर रहा है, जिससे आगे कुछ दिनों तक जारी रखा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here