रामनगर में नगर पालिका और जनता है परेशान! बेखबर शासन-प्रशासन

रामनगर- स्वच्छ भारत अभियान पूरे देश में चल रहा है। इधर राज्य में हाईकोर्ट के सख्त आदेश के बाद नदियों के किनारे कूड़ा डालने पर सख्त पाबंदी है। जबकि राज्य के कई इलाकों की तरह रामनगर में भी अब तक नगर पालिका का ट्रंचिग ग्राउंड कोसी नदी के किनारे ही मौजूद है।
लिहाजा रामनगर में कूड़ा एकत्रीकरण के लिए नगर पालिका को भारी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है।  जबकि रामनगर तीनो ओर से कार्बेट नेशनल पार्क की सीमा से सटा हुआ है। बावजूद इसके शासन-प्रशासन अभी तक रामनगर के लिए किसी ट्रंचिग ग्राउड का इंतजाम नहीं कर पाया है। ऐसे में स्थानीय लोग चोरी-छिपे कोसी नदी के किनारे ही कूड़ा करकट डालने को मजबूर हैं।
हालांकि नगर पालिका के अधिशांसी अधिकारी की माने तो नदी किनारे कूडा कचरा फेकने से स्थानीय निवासियों को रोक जा रहा है। ऐसे में सवाल उठता है कि जब कचरा प्रबंधन का कोई इंतजाम नहीं तो स्थानीय निवासी घरों से निकलने वाले कचरे का कहां निस्तारण करें?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here