गृह मंत्रालय ने दी चेतावनी- अपने मोबाइल से तुरंत हटाएं ये 4 ऐप्स, नहीं तो आपके….

इस बक्त की यो बड़ी खबर सामने आ रही है वो ये है की गृह मंत्रालय ने चेतावनी दी है की यदि आपके फ़ोन में ये 4 एप्लीकेशन इंस्टाल है, तो तुरंत इन्ह एप्लीकेशन को डिलीट ककर दिया जाये यदि आपके मोबाइल फोन में ये 4 एप्लिकेशन हैं तो आपकी निजी जानकारी, आपका पैसा, बैंक खातों को खतरा है और आप राष्ट्रीय सुरक्षा से भी समझौता कर रहे हैं।

गृह मंत्रालय ने फोन में इन 4 एप्स को डाउनलोड न करने की चेतावनी देते हुए सभी खुफिया इकाइयों को और नागरिकों को सतर्क रहने को कहा है। बता दे पाकिस्तान द्वारा एक नया सॉफ्टवेर बनाया गया है जिसका नाम ‘टॉकिंग फ्रॉग’ जो पाकिस्तान द्वारा डिजाइन किया गया ऐप है

इस  ऐप के द्वारा पाकिस्तान हर स्मार्टफोन को अपने बस में कर लेगा और इतना ही नही बल्कि आपका सारा डाटा चोरी कर लिया जायेगा…आपको बता दें इस ऐप के द्वारा दरअसल, पाकिस्तानी खुफिया संगठन हमारे देश पर जासूसी करने के लिए इन एप्लिकेशन के माध्यम से मालवेयर भेज रहे हैं। इसी ऐप के द्वारा पाकिस्तान भारत में जासूसी करने की कोशिश कर रहा है  और जितना जल्दी ही सके इन्ह ऐप को अपने स्मर्त्फोने में से डिलीट कर दे

बता दे मंत्रालय ने सभी नागरिको को सतर्क करते हुए आदेश दिया है की मोबाइल उपयोगकर्ताओं को साइबर धोखाधड़ी को रोकने के लिए अपने स्मार्टफ़ोन से टॉप गन (गेम ऐप), एमपीजन्की (संगीत ऐप), बीजाजनी (वीडियो ऐप) और टॉकिंग फ्रॉग (एंटरटेनमेंट ऐप) इन चार ऐप को तुरंत हटाने के लिए कहा है।

इसके अलावा ये 5 अन्य एप भी आपके व्यक्तिगत डेटा को चोरी कर सकते हैं और आपको अपना व्यक्तिगत डेटा वापस करने के लिए फिरौती देने पर मजबूर कर सकते हैं।

एंड्रॉइड डिफेंडर

एंड्रॉइड डिफेंडर यह ऐप कई साइटों के माध्यम से डॉउनलोड किया जाता है, लेकिन Google के Play Store पर यह उपलब्ध नहीं है।

सिंपलॉकर

यह एंड्रॉइड रैनसोवेयर है जो फाइल को एन्क्रिप्ट करता है।

एडल्ट प्लेयर

एडल्ट प्लेयर एक अश्लील वीडियो प्लेयर है। इससे निजी फाइलों कि चोरी कि जा रही है।

लॉकरपिन

लॉकरपिन में उपलब्ध नहीं हैं। इसे कहीं से भी डाउनलोड न करें।

लॉकडाइड

गृह मंत्रालय ने फोन में इस एप को डाउनलोड न करने की चेतावनी दी है।

इसलिए जितना जल्दी हो सके गृह मंत्रालय ने मोबाइल उपभोक्ताओं को साइबर धोखाधड़ी को रोकने के लिए अपने स्मार्टफ़ोन में से इन्ह 5 एप को डिलीट करने का आदेश दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here