विराट-अनुष्का का तोहफा, बना रहे पशु और पक्षियों का अस्पताल

हरिद्वार- भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और उनकी पत्नी एवं सिने अभिनेत्री अनुष्का शर्मा दुर्घटना में जख्मी पशु-पक्षियों के इलाज को मुंबई में वासी रोड पर आधुनिक सुविधाओं से लैस विश्वस्तरीय अस्पताल बनवा रहे हैं। अस्पताल के निर्माण से लेकर संचालन तक की जिम्मेदारी अनंत धाम हरिद्वार के पीठाधीश्वर अनंत बाबा के पास है। यह अस्पताल विराट व अनुष्का का एक-दूसरे को शादी तोहफा भी है, जिसमें उनके फिल्म और क्रिकेट जगत के नजदीकी भी सहयोग कर रहे हैं।

अनंत बाबा ने अस्पताल के लिए मुंबई में वासी रोड पर दस एकड़ भूमि खरीदे जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि अस्पताल निर्माण की शुरुआती प्रक्रिया विराट-अनुष्का की शादी के तुरंत बाद शुरू हो गई है। बताया कि पशु-पक्षियों के प्रति विराट और अनुष्का, दोनों का ही विशेष लगाव है। खासकर, अनुष्का तो उन पर जान छिड़कती है।देश में विभिन्न स्थानों पर भ्रमण के दौरान अनुष्का को जब कहीं जख्मी पशु-पक्षी नजर आते थे, वह विचलित हो उठती थी और उनके इलाज एवं देखभाल के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार रहती थी। यही वजह है कि उसने मुंबई में पशु-पक्षियों के लिए इस तरह का विशिष्ट अस्पताल बनाने का सपना देखा।

विराट ने भी उसकी भावनाओं का सम्मान किया और शादी के बाद दोनों इस सपने को साकार करने में जुट गए हैं। अनुष्का के पिता कर्नल अजय कुमार शर्मा, माता आशिमा शर्मा और भाई करणेश शर्मा भी इस मिशन में पूरा सहयोग कर रहे हैं। वे कहते हैं कि दोनों बच्चे बेहद कोमल हृदय हैं, वह किसी भी प्राणी, खासकर पशु-पक्षियों की पीड़ा नहीं देख सकते।

अनंत बाबा के अनुसार इस अस्पताल में दुर्घटना में घायल हुए सभी प्रकार के पशु-पक्षियों को विश्वस्तर की चिकित्सा सुविधाएं एक ही छत के नीचे मिलेंगी। अस्पताल में उनके रहने और खाने का भी उचित बंदोबस्त होगा।

उन्होंने कहा कि इन्सान के लिए सरकार और निजी संस्थाओं के साथ-साथ तमाम उद्योगपतियों ने देशभर में बड़े-बड़े आधुनिकतम अस्पताल खोल रखे हैं। लेकिन, पर्यावरण और पशु-पक्षियों की रक्षा के लिए इस तरह का कदम उठाने का ख्याल किसी ने नहीं किया। बताया कि अस्पताल के निर्माण में एक से डेढ़ वर्ष का समय लग सकता है।

हालांकि, अस्पताल निर्माण पर कितना खर्च आएगा, इसका अभी अनुमान नहीं लगाया जा सकता। बताया कि धर्मार्थ सेवार्थ इस अस्पताल से पशु-पक्षी विशेषज्ञों, वन्य जीव प्रेमियों और चिकित्सकों को भी जोड़ा जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here