गर्भावस्था में धूम्रपान करने से बच्चे की सुनने की शक्ति को खतरा

शोधकर्ताओं का कहना है कि अगर आप मां बनने की योजना बना रही हैं, तो धूम्रपान छोड़ दीजिए। गर्भावस्था के दौरान या जन्म के बाद आपके बच्चे के तंबाकू के संपर्क में आने से उसकी श्रवण शक्ति को नुकसान हो सकता है। शोधकर्ताओं के अनुसार, गर्भावस्था के दौरान धूम्रपान के संपर्क में आने वाले बच्चों में 68 फीसदी श्रवण संबंधी विकारों में वृद्धि देखी गई।

इन टिप्स की मदद से गर्भावस्था में नहीं होगी जी मिचलाने की समस्या

जापान के क्योटो विश्वविद्यालय के कोजी कवाकामी ने कहा कि यह शोध साफ तौर पर दिखाता है कि गर्भावस्था के दौरान तम्बाकू के धुएं के संपर्क में आने और जन्म के बाद इससे बचाए रखने से बच्चों में सुनने संबंधी दिक्कतों के जोखिम को कम किया जा सकता है। इस शोध को ‘पीडियाट्रिक एंड पेरीनेटल इपिडेमिओलॉजी’ नामक पत्रिका में प्रकाशित किया गया है। इसमें तीन साल के 50,734 बच्चों के आंकड़े शामिल हैं।

इस समूह में से 3.8 फीसदी सिर्फ गर्भावस्था के दौरान धूम्रपान के संपर्क में आए, 3.9 फीसदी चार महीने पर अप्रत्यक्ष रूप से धूम्रपान के संपर्क में आए और 0.9 फीसदी गर्भावस्था के दौरान व चार महीने पर तंबाकू के संपर्क में आए बच्चे शामिल थे। इनके नतीजों से पता चला है कि तंबाकू के संपर्क में आने से तीन साल की आयु वाले बच्चों में श्रवण शक्ति का नुकसान 4.6 फीसदी रहा, चार महीने के होने पर अप्रत्यक्ष रूप से धूम्रपान के संपर्क में आने से संबंधित जोखिम 30 फीसदी रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here