उत्तराखंड में बारिश का कहर जारी, बागेश्वर में टूटा पहाड़, मलबे में दबे कई वाहन

देहरादून- कुमाऊं में बागेश्वर जिले के कपकोट में मंगलवार की सुबह से हो रही बारिश से पहाड़ टूट गया। इस मलबे में कई वाहन दब गए। कपकोट में कई घरों में बरसात का पानी घुस गया। सोमवार से बागेश्वर में हो रही बारिश के कारण सरयू नदी भी उफान पर है। इससे लोगों में दहशत बनी हुई है। बारिश से बागेश्वर और पिथौरागढ़ में कई सड़कें बंद पड़ी हैं।

उधर, गढ़वाल के थराली सहित आस पास के क्षेत्रों में मंगलवार की तड़के हुई जोरदार बारिश से नालों और गधेरों का मलबा सड़क पर आ गया। जिससे थराली देवाल मुख्य मार्ग सहित छह अन्य लिंक मार्ग बंद हो गए हैं। कई जगह चटटानें टूटने से सड़कें क्षतिग्रस्त हो गई हैं। साथ ही तहसील मुख्यालय राड़ीबगड़ और केदारबगड़ में बरसाती नालों से मलबा आने से सड़क बंद हो गई। बाद में पीडब्ल्यूडी की जेसीबी मशीन ने आवागमन चालू किया।

बता दें कि मौसम विभाग ने उत्तराखंड के ज्यादातर क्षेत्रों में 10 और 11 जुलाई को जमकर बारिश होने की आशंका जताई है। मौसम विभाग ने 11 जुलाई तक लगभग पूरे कुमाऊं और गढ़वाल के अधिकांश क्षेत्रों में भारी बारिश की आशंका जताई है। इसको देखते हुए अलर्ट जारी किया गया है। विभाग के अनुसार 10 जुलाई को विशेषकर कुमाऊं के सभी जिलों और गढ़वाल के चमोली, पौड़ी एवं रुद्रप्रयाग में भारी बारिश हो सकती है। वहीं, 11 जुलाई को पूरे कुमाऊं क्षेत्र के साथ ही गढ़वाल के देहरादून, उत्तरकाशी और टिहरी जिलों में भी भारी से बहुत भारी बारिश की आशंका है। मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि बारिश को देखते हुए अलर्ट जारी किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here