उत्तरकाशी में माघ मेले की तैयारियां शुरू, इस बार कुछ हटकर होगा मेहमानों का स्वागत-सत्कार

उत्तरकाशी (सुनील मोर्य)–  जिले में आयोजित होने वाले माघ मेले में इस बार मुख्य अतिथियों का सम्मान पहाड़ी टोपी पहनाकर किया जाएगा।  ताकि पहाड़ की लुप्त होती संस्कृति को बचाने का संदेश आम समुदाय के बीच पहुंच सके। ये सुझाव उत्तरकाशी जिला पंचायत को उस वक्त मिले जब मेले की तैयारियों के लिए जिला पंचायत अध्यक्ष जशोदा राणा अध्यक्षता कर रही थी। 
जिला पंचायत सभागार लदाड़ी मेंं मेले के सफल आयोजन को लेकर हुई बैठक में पंचायत सदस्यों और समाज के कई गणमान्य नागरिकों ने कई अहम सुझाव दिए। इस मौके पर मेला आयोजन के लिए कई समितियों के पदाधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई।
बैठक लेते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष जशोदा राणा ने कहा कि आयोजित होने वाले मेले में स्थानीय उत्पादो पर ज्यादा जोर दिया जायेगा ताकि  स्थानीय उत्पाद को बाजार मिल सके। वहीं इस बार जोशियाड़ा पुल रात को रोशनी से गुलजार रहेगा इसकी  साज-सज्जा के लिए फैंसी लाईटिंग लगवाने का भी सुझाव दिया गया है।
  वहीं पत्रकार संघ अध्यक्ष शिव सिह थलवाल ने मेले में स्थानीय उत्पाद को बढ़ावा देने एवं बाजार उपलब्ध कराने के लिए किसानों को अलग से स्टॉल देने का सुझाव दिया। ताकि  किसान अपने उत्पाद को आसानी के साथ बेच सकें। वहीं मेले में राज्य के कई जिलों से आने वाली देव डोलियों के दर्शन के लिए अलग से स्थान देने की भी पैरवी की ताकि भक्तों को आसानी से उनकी आस्था के अनुकूल दर्शन हो सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here