उत्तरकाशी में जनपद स्तरीय युवा महोत्सव का आयोजन

उत्तरकाशी (सुनील कुमार) – स्वामी विवेकानन्द की जन्म शताब्दी के मौके पर जिला युवा कल्याण एवं प्रा.र.द. विभाग के तत्वावधान में उत्तरकाशी विकास भवन में जनपद स्तरीय युवा महोत्सव का आयोजन किया गया. जिसमें विधायक यमुनोत्री केदार सिंह रावत और जिलाधिकारी डा. आशीष चौहान ने बतौर मुख्य अतिथि के रुप में शिरकत की और दीप प्रज्वलित करके कार्यक्रम का शुभारंभ किया.

जनपद स्तरीय युवा महोत्सव में जनपद के सभी विकास खण्डों से लोक नृत्य, लोक गीत और एंकाकी प्रतियोगिताओं में 18 टीमों ने प्रतिभाग किया. जिसमें सभी टीमों ने अपने-अपने क्षेत्र की लोक नृत्य, लोक गीत की प्रस्तुति देकर सबका मन मोह लिया.

सांस्कृतिक प्रस्तुति के लिए सभी टीमों को 20-20 मिनट का समय तय की गयी. कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि विधायक यमुनोत्री केदार सिंह रावत ने कहा लोक संस्कृति के संरक्षण एवं संर्वद्वन में इस तरह के कार्यक्रम अहम है। इस तरह के आयोजन से सांस्कृति टीमें निखर कर आगे बढ़ेंगी।

साथ ही उन्होंने कहा कि सांस्कृतिक संरक्षण को बचाने एवं उत्तराखण्ड देवभूमि की विरासत एवं उसकी जड़ों को और मजबूत करने में युवा महोत्सव कार्यक्रम अहम है। कहा कि देवभूमि उत्तराखण्ड में देवी देवताओं के अवतार हुए है इसके पग-पग पर प्रमाण मिलते हैं। उन्होंने कहा कि अपनी सांस्कृतिक विरासत को संजोकर रखना है.

विधायक केदार सिंह रावत ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द पूरे देश ही नहीं अपितु पूरे विश्व के लिए प्रेरणास्रोत हैं और उनके संदेश के वक्तव्य आज भी संकलित है।केदार सिंह रावत ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द ने युवाओं से कहा कि था कि युवाओं का पूजा का स्थल फुटबाल मैदान होना चाहिए.

इस मौके पर डा. आशीष चौहान ने कहा कि आधुनिक चकाचौंद की दुनिया में युवा पाश्चात्य संस्कृति ओर भाग रहा है। अपनी लोक संस्कृति को बचाने में युवा महोत्सव अहम है. जिलाधिकारी ने कार्यक्रम में मिनी उत्तराखण्ड की झलक नजर आने की बात कही.

डीएम आशीष चौहान ने कार्यक्रम में प्रतिभाग करने वाली टीमों को अपनी लोक संस्कृति को बचाने के लिए धन्वाद दिया और कहा कि आने वाले वर्षों में सांस्कृतिक टीमें निखकर आयेंगी औऱ आगे इससे भी बेहतरीन लोक सांस्कतिक कार्यक्रम देखने को मिलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here