दुष्कर्म के बाद नाबालिग छात्रा की हत्या, आरोपी के घर से मिला शव

गदरपुर : छात्रा से दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी छात्र ने जहर खाकर आत्महत्या का प्रयास किया। उसकी हालत गंभीर बनी है। छात्रा की शव आरोपी के घर से बरामद किया गया। घटना से भड़के छात्रा के परिजनों ने आरोपी के घर में तोड़फोड़ कर डाली। समझाने पर आक्रोशित परिजन पुलिस से भी भिड़ गए। मामला प्रेम प्रसंग से जुड़ा होने की संभावना जताई जा रही है।

थाना गदरपुर के ग्राम करतारपुर निवासी ज्योति चंद्रा सुबह अपने भाई के साथ चौहान कालोनी में ट्यूशन पढ़ने गई थी। ज्योति को छोड़ने के बाद उसका भाई घर लौट आया। काफी देर तक जब ज्योति घर नहीं पहुंची तो परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की। इसी बीच पुलिस को पता चला कि ग्राम अमरपुरी में एक छात्रा की हत्या कर दी गई है।

इस पर सीओ कमला बिष्ट और थानाध्यक्ष ललित मोहन जोशी के नेतृत्व में पुलिस कमलजीत  पुत्र स्व. सुखविंदर के घर पहुंची। पुलिस को कमलजीत के घर में बिस्तर पर अ‌र्द्धनग्न अवस्था में लाश मिली। आसपास अश्लील सामग्री भी पड़ी थी। छात्रा के सिर पर चोट के निशान थे और खून बह रहा था। घर की दूसरी मंजिल पर कमलजीत चारपाई पर अचेत पड़ा था।

घटना की सूचना जैसे ही शहर में फैली तो ज्योति के भाई और पिता भी अमरपुरी पहुंच गए। उन्होंने मृतका की पहचान ज्योति के रूप में की। ज्योति की लाश देखकर परिजनों में कोहराम मच गया। उनका आरोप था कि कमलजीत ने अपने साथियों के साथ ट्यूशन पढ़ने के बाद ज्योति को जबरन कार में बैठाकर उसकी हत्या कर दी।

ज्योति की मौत की सूचना मिलने पर नाते रिश्तेदार भी अमरपुरी पहुंच गए और उन्होंने कमलजीत के घर में तोड़फोड़ शुरू कर दी। समझाने पर वह पुलिस से भी उलझ गए। इस पर सीओ कमला बिष्ट और थानाध्यक्ष ललित मोहन जोशी ने जैसे तैसे आक्रोशित लोगों को समझा बुझाकर शांत कराया। बाद में पुलिस ने लोगों की मदद से अचेत अवस्था में पड़े कमलजीत को तत्काल उपचार के लिए स्वास्थ्य केंद्र भेजा। जहां उसकी हालत गंभीर देख पुलिस कस्टडी में सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी रेफर कर दिया गया। साथ ही ज्योति के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here