उत्तराखंड का एक और लाल सीमा पर हुआ शहीद, सुगड़ी में सन्नाटा, सूबा हुआ उदास

डेस्क- उत्तराखंड का एक और लाल ने वतन की हिफाजत में फ़ना हो गया है। पाकिस्तानी सेना ने मंगलवार को पुंछ के कृष्णा घाटी सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर स्नाइपर शाट दागा, जिसमें उत्तराखंड का लाल पवन संह सुगड़ा शहीद हो गया। मात्र 19 साल पांच माह के पवन 120 कुमाऊं यूनिट के सिपाही पद पर तैनात थे।

पवन सिंह सुगड़ा  निवासी गांव सुगड़ी, पोस्ट ऑफिस, चौरपाल, तहसील गंगोलीहाट, जिला पिथौरागढ़ के रहने वाले थे। मंगलवार को दोपहर बाद तीन बजे पाक सेना ने कृष्णा घाटी सेक्टर के सामने से भारतीय अग्रिम चौकी को निशाना बनाकर स्नाइपर शाट दागा। गोली सिपाही पवन सिंह को लगी। भारतीय सेना ने जवान को सेना के 150 जनरल अस्पताल पहुंचाया। जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। पवन के शहीद होने की खबर सुनते ही उत्तराखंड में शोक की लहर दौड़ गई है।

पवन सिंह तीन साल पहले ही सेना में सिपाही के पद पर भर्ती हुए थे। पवन के पिता दान सिंह भी सेना से रिटायर्ड हैं। शहीद पवन अपने चार भाई बहनों में सबसे छोटे थे। पवन के बड़े भाई उत्तराखंड  पुलिस में तैनात हैं। बताया जा रहा है कि 4 अगस्त को शहीद पवन ने अपने भाई से बात कर अपनी कुशल क्षेम दी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here