उत्तराखंड : प्रबंध निदेशक को 38000 की रिश्वत लेते हुए विजिलेंस टीम ने रंगे हाथों दबोचा

हरिद्वार- लक्सर में विजिलेंस की टीम ने सहकारी समिति के भूरनी खतीरपुर स्थित कार्यालय पर अचानक छापेमारी की. जिसमें वहां के प्रबंध निदेशक को 38000 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा। यह कार्रवाई करीब 2 घंटे तक चली. जिसके बाद देहरादून से आई विजिलेंस की टीम दो शिकायतकर्ताओं में से एक शिकायतकर्ता और रंगे हाथों पकड़े गए अधिकारी किरणपाल सैनी को अपने साथ देहरादून ले आई.

धोखे से कराया 100000 के चेक पर साइन

शिकायतकर्ता ने बताया कि किरणपाल सैनी ने उससे धोखे से 100000 के चेक पर साइन करा कर औऱ साथ ही जिला सहकारी बैंक लक्सर से भुगतान करा लिया. जब शिकायतकर्ता को इस बात का पता चला तो इसकी शिकायत की. इसी बीच को-ऑपरेटिव सहकारी समिति के कार्यालय से सेवानिवृत्त हुए श्याम नारायण यादव ने जब अपना रुका हुआ पैसा निकलवाने की बात किरणपाल सैनी से की तो किरणपाल सैनी ने उससे इस पैसे को निकलवाने की एवज में कुछ परसेंटेज देने की शर्त रख दी जिसकी शिकायत श्याम नारायण यादव ने विजिलेंस देहरादून को की.

38000 की रिशवत लेते दबोचा

पहले से बनाई गई प्लान के मुताबिक टीम ने आज को-ऑपरेटिव सहकारी समिति भूरनी खतीरपुर कार्यालय पर छापा मार दिया जिससे श्याम नारायण यादव द्वारा दिए गए 38000 भी अधिकारी किरणपाल सैनी से मौके पर ही बरामद किए गए. बरामद की गई धनराशि सहित किरणपाल सैनी को विजिलेंस टीम लेकर देहरादून के लिए रवाना हुई.

जब पत्रकारों ने टीम के अधिकारियों से बात करने की कोशिश की तो टीम ने कुछ भी बताने से इनकार करते हुए कहा कि इस टीम में आए हुए अधिकारी किसी भी कैमरे पर बोलने के लिए अधिकृत नहीं हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here