भगवान विष्णु से नफरत की वजह से पड़ा था इस शहर का नाम, अब है मंदिरों का गढ़

भारत में कितनी ऐसी जगह हैं, जिनका अजीबों-गरीब नाम है. लेकिन क्या आपने कभी इनके नाम के पीछे की वजह जानने की कोशिश की. जब आप नाम के पीछे कहानी के बारे में बात करेंगे, तो आपको तरह-तरह की कहानी मिलेगी. ऐसी ही एक जगह है जिसका नाम भगवान विष्णु से नफरत के कारण पड़ा था. इस जगह को आज हरदोई के नाम से जानते हैं, जो उत्तरप्रदेश में है.

आज हरिद्रोही बन चुका है हरदोई

उत्तरप्रदेश में आज जिस जगह को हरदोई कहा जाता है, उसे ही हरिद्रोही बना दिया गया था. बदलते समय के साथ हरिद्रोही का नाम हरदोई रख दिया गया.

इस वजह से चुना उस जगह को

ऐसा माना जाता है कि हिरयणकश्यप की दूसरी पत्नी विष्णुभक्त थी. वो हरदोई की ही रहने वाली थी. अपनी पहली संतान के जन्म के समय वो अपने मायके गई थी. वहां पर हरिनाम का ऐसा बोलबाला था कि उसका पुत्र प्रह्लाद भी विष्णुभक्त बन गया. इस वजह से हिरयणकश्यप चाहता था कि फिर से कोई उस जगह पर हरिभक्त जन्म न ले.

क्या है खास

मंदिर और गांवों की इस जगह पर लोग ग्रामीण परिवेश को करीब से देखने आते हैं. आप यहां भोलानाथ मंदिर, सरवन देवी मंदिर, नरसिम्हा फोरेस्ट, मंगला देवी मंदिर जैसी जगहों पर घूम सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here