जानिए, पार्टी प्रत्याशी होने के बावजूद भी कौन उम्मीदवार नहीं लड़ पाएगा दल के चुनाव चिह्न पर निकाय चुनाव!

देहरादून– निकाय चुनाव की सरगर्मियां तेज होने लगी हैं। आज देहरादून में राज्य निर्वाचन आयुक्त सुबर्धन शाह से कई सियासी दलों के प्रतिनिधियों ने मुलाकात की। इस दौरान निर्वाचन आयुक्त ने सियासी दलों को कई हिदायतें और जानकारियां दी।
उन्होने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य में पहली बार इस निकाय चुनाव में व्यय प्रेक्षकों की नियुक्ति की जाएगी ताकि चुनावी खर्च पर निगरानी रखी जा सके। वहीं इस बार किसी भी सियासी दल को मतदाता सूची की प्रिट कॉपी मुहैय्या नहीं करवाई जाएगी। सभी राजनैतिक दलों को निर्वाचन आयोग की साइट से मतदाता सूची डाउनलोड करनी होगी।
इस दौरान राज्य निर्वाचन आयुक्त सुबर्धन शाह  ने सियासी दलों से जुड़े पदाधिकारियों को महत्वपूर्ण जानकारी दी कि जिन राजनैतिक पार्टियों के उम्मीदवारों  ने पिछले निकाय चुनाव में खर्च का ब्यौरा और आयकर विभाग का अनापत्ति प्रमाण पत्र नहीं जमा निर्वाचन आयोग को जमा नहीं करवाया है वे 10 तारीख तक जमा करवा दें। वरना  उन्हें पार्टी सिंबुल पर चुनाव लड़ने की इजाजत नहीं दी जाएगी।
वहीं राज्य निर्वाचन आयुक्त ने बताया कि इस बार स्वस्थ चुनाव के लिए आदर्श आचार संहिता पालन हो इसके लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने प्रेक्षकों की तादाद बढ़ाने का निर्णय लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here