हेमकुंड में डेक्कन कंपनी ने हेली सेवा का संचालन किया बंद…जानिए क्यों?

जोशीमठ- हेली सेवा संचालित करने की अनुमति समाप्त होने के बाद डेक्कन कंपनी ने मंगलवार से गोविंदघाट-घांघरिया हेली सेवा का संचालन बंद कर दिया। इसके चलते हेमकुंड साहिब व लोकपाल लक्ष्मण मंदिर जाने वाले श्रद्धालुओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

डेक्कन कंपनी ने हेली सेवा का संचालन किया बंद

हेमकुंड साहिब, लोकपाल लक्ष्मण मंदिर व फूलों की घाटी के मुख्य पड़ाव गोविंदघाट से घांघरिया तक डेक्कन कंपनी हेली सेवा का संचालन कर रही थी। बताया गया कि डेक्कन कंपनी के पास हेली सेवा संचालन के लिए चार जून तक की ही अनुमति थी। ऐसे में उसे हेली सेवा बंद करनी पड़ी।

हालांकि, हेली टिकट को लेकर डेक्कन कंपनी के हेलीपैड पर सुबह से ही हेमकुंड साहिब व फूलों की घाटी जाने वाले श्रद्धालुओं व पर्यटकों का हुजूम लग गया था। लेकिन, उन्हें हेली सेवा बंद होने की सूचना पर उन्हें निराश होना पड़ा।

विदित हो कि हेमकुंड साहिब व लोकपाल लक्ष्मण मंदिर की यात्रा शुरू होने के बाद से रोजाना सैकड़ों यात्री हेली सेवा से गोविंदघाट पहुंच रहे थे। एक जून से फूलों की घाटी भी पर्यटकों के लिए खोल दिए जाने के बाद अधिकतर पर्यटक घांघरिया तक डेक्कन की हेली सेवा का लाभ ले रहे थे।

गुरुद्वारा प्रबंधक सेवा सिंह ने बताया कि हेली सेवा बंद होने से श्रद्धालुओं की दिक्कतें बढ़ गई हैं। जानकारी न होने के कारण बड़ी तादाद में श्रद्धालु डेक्कन कंपनी के कार्यालय का चक्कर काट रहे हैं। इस संबंध में जिलाधिकारी चमोली आशीष जोशी का कहना है कि मामला टेंडर से जुड़ा होने के कारण हेली सेवा का संचालन नहीं हो पाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here