घोड़े से जाना चाहते हैं आप हेमकुंड साहिब तो देना होगा इतना किराया…जानिए

गोपेश्वर : पांचवें धाम हेमकुंड साहिब और फूलों की घाटी के लिए चमोली जिला प्रशासन ने घोड़ा-खच्चर और डंडी-कंडी (पालकी) की दरें तय कर दी हैं। पुलना से हेमकुंड (जाने-आने) के लिए यात्री को डंडी के 15200 रुपये देने होंगे, जबकि कंडी का किराया 2100 रुपये और घोड़ा-खच्चर का 3100 रुपये तय किया गया है। इसी तरह घांघरिया से फूलों की घाटी (जाने-आने) के लिए डंडी की दर 6200 रुपये और कंडी की 1100 रुपये निर्धारित की गई है। श्री हेमकुंड साहिब के कपाट 25 मई और फूलों की घाटी को सैलानियों के लिए एक जून को खोला जाएगा।

गुरुद्वारा गोविंदघाट में जिलाधिकारी आशीष जोशी की अध्यक्षता में आयोजित यात्रा से जुड़े अधिकारियों की बैठक में नई दरें तय की गईं। डीएम ने अधिकारियों को हिदायत दी कि यात्रा व्यवस्था संबंधी सभी कार्य 15 मई तक पूर्ण कर लिए जाएं। उन्होंने शांति एवं सुरक्षा के लिए गोविंदघाट, पुलना, भ्यूंडार, घांघरिया व हेमकुंड में पर्याप्त पुलिस बल एवं एसडीआरएफ की टीमें  तैनात करने के निर्देश भी दिए।

डीएम ने गुरुद्वारा प्रबंधन समिति, पर्यटन विभाग व जीएमवीएन को निर्देश दिए कि जोशीमठ, गोविंदघाट गुरुद्वारा व घांघरिया में पर्याप्त आवासीय व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। साथ सभी होटल-ढाबों में अनिवार्य रूप से रेट लिस्ट चस्पा की जाए। जिला पंचायत व एसडीएम इसकी नियमित रूप से मॉनीटरिंग करेंगे।

हेमकुंड यात्रा के लिए घोड़ा-खच्चर व श्रमिकों के साथ यात्रियों को भी अनिवार्य रूप से पंजीकरण कराना होगा। बिना पंजीकरण किसी को भी यात्रा पर जाने की अनुमति नहीं होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here