सीएम से की गन्ना आयुक्त एवं समिति सचिव को निलंबित करने की मांग

हरिद्वार: लिब्बरहेड़ी गन्ना समिति के चेयरमैन ने गन्ना आयुक्त एवं सचिव पर बिना बोर्ड के ही मिल को गन्ना खरीद केंद्र आवंटित करने का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री से शिकायत की है। मामले में दोनों अधिकारियों का निलंबन एवं एसडीएम से जांच कराने की मांग की है।

शुगर मिलों का पेराई सत्र शुरू होने से पहले समितियों की ओर से देहात क्षेत्रों में गन्ना खरीद केंद्र आवंटित किए जाते हैं। समिति के चेयरमैन कुलदीप चौधरी ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत को भेजे शिकायती पत्र में बताया कि सहायक गन्ना आयुक्त आशीष कुमार नेगी एवं सचिव कुलदीप तोमर ने एक शुगर मिल को लाभ पहुंचाने के लिए बिना बोर्ड बैठक के ही गन्ना खरीद केंद्र आवंटित कर दिए हैं। ऐसे में किसानों की ओर से बनाए गए प्रबंध समिति के बोर्ड के अधिकारों का तो हनन हुआ है।

साथ ही किसानों से बिना पूछे गन्ना खरीद केंद्र आवंटित कर सुविधाओं का भी ध्यान नहीं रखा गया है। जिससे आने वाले सत्र में किसानों को गन्ना बेचने में भी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। वहीं समिति के सचिव कुलदीप तोमर का कहना है कि अभी केंद्र आवंटित नहीं किए गए हैं, गन्ना अधिकारियों के निर्देश पर केवल गन्ना खरीद केंद्र आवंटित करने के लिए प्रस्ताव तैयार किया गया है, क्योंकि अधिकारियों की ओर से दस सितंबर तक प्रस्ताव मांगे गए थे, आवंटन नियमानुसार ही होगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here