आधार कार्ड ने मिलाया 13 साल से लापता चंपावत के युवक को परिजनों से…जानिए कैसे

चंपावत- 13 साल से लापता चंपावत जिले के युवक को पुलिस ने ढूंढ निकाला है। मंगलवार की सुबह चम्पावत पुलिस के साथ गए परिजनों ने राजस्थान के सांगनेर पुलिस थाना क्षेत्र, जयपुर से बरामद कर लिया।

चम्पावत जिले के गांव चौड़ापिता, राठासाहिब निवासी प्रेम सिंह बोरा वर्ष 2005 में लापता हो गया था। उस समय प्रेम सिंह ने 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की थी। लंबे समय तक तलाश के बाद पुलिस व परिजनों ने उसकी तलाश बंद कर दी। वहीं, दिसंबर 2017 में अचानक एक आधार कार्ड चौड़ापानी गांव में पोस्ट से आया। ये आधार कार्ड प्रेम सिंह का था।

कार्ड में प्रेम सिंह की वर्तमान की फोटो भी छपी थी। प्रेम सिंह का आधार कार्ड आने की खबर को 24 जनवरी के अंक में प्रमुखता से प्रकाशित किया। साथ ही आधार कार्ड के नवंबर में बनने और जयपुर से आने की जानकारी भी दी। आधार कार्ड में प्रेम सिंह का मोबाइल नंबर भी दर्ज था।

सूचना मिलने पर उसी दिन एसपी चम्पावत धीरेंद्र गुज्याल ने सर्विलांस की मदद से आधार कार्ड में दर्ज नंबर के आधार पर प्रेम सिंह की तलाश शुरू कर दी।

हालांकि परिजनों के नंबर पर संपर्क करने पर प्रेम सिंह ने अपना फोन बंद कर दिया था। मंगलवार सुबह एसपी चम्पावत धीरेंद्र गुज्याल ने बताया कि प्रेम सिंह को ढूंढने के लिए परिजनों के साथ रीठासाहिब पुलिस स्टेशन के कांस्टेबल भूपाल चंद, मानवेंद्र सिंह को राजस्थान भेजा गया था। आज सुबह प्रेम सिंह सांगानेर थाना क्षेत्र जयपुर से ढूंढ लिया गया है। परिजन व पुलिस उसे लेकर चम्पावत के लिए लौट चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here