एक शख्स को काटा काले नाग ने, गुस्से में जबरदस्ती फिर कटवाया, डॉक्टर हैरान

कोबरा एक बार जरा सा भी काट ले तो डॉक्टरों के लिए उसको बचाना मुश्किल तो होता ही है साथ ही इंसान बच बी नहीं पाता. लेकिन हरदोई के बालामऊ कस्बे में एक हैरतंगेज मामला सामने आया है। अब उसे विष पुरुष कहें या फिर कोई चमत्कार, गल्ला गोदाम में एक ठेकेदार को सांप ने काट लिया तो उसने उसे पकड़ लिया फिर गुस्से में सांप से जबरदस्ती फिर कटवाया। वन विभाग की टीम ने सांप को कब्जे में ले लिया। वहीं ठेकेदार को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।जहां वह पूरी तरह से स्वस्थ हैं।

चिकित्सकों ने सांप के काटने की पुष्टि तो की है लेकिन उनका कहना है कि उसके ऊपर कोई असर नहीं है।कछौना थाना क्षेत्र के कामीपुर निवासी सरफराज पुत्र नवाबअली बालामऊ में सरकारी गोदाम पर मेठ का काम करता है। रविवार को पल्लेदारों की देखरेख का काम कर रहा था। दोपहर बाद अचानक गोदाम में रखे बोरों के बीच से कोबरा निकल आया और उसकी उंगली में काट लिया।

कोबरा के काटने के बाद आया गुस्सा, कोबरा को पकड़कर दोबारा उंगली में कटवा

सरफराज ने बताया कि कोबरा के काटने के बाद उसे गुस्सा आ गया और उसने कोबरा को पकड़कर दोबारा उंगली में कटवा लिया। इसके बाद कोबरा का फन कसकर पकड़ लिया। इसे देख पल्लेदारों के अलावा लोगों की भीड़ लग गई। लोगों ने उससे कोबरा को छोड़ने को कहा, लेकिन उसने नहीं छोड़ा। पल्लेदारों ने एंबुलेंस और वन विभाग को सूचना दी। मौके पर वन विभाग की टीम पहुंच गई। टीम कोबरा को पकड़कर अपने साथ ले गई।

केस हिस्ट्री से डॉक्टर भी हैरान

जिला चिकित्सालय में इमरजेंसी में तैनात ईएमओ डा. मनोज देशमणि के मुताबिक सरफराज की हालत इस समय ठीक है। उसके हाथ की उंगलियों में सांप के दो जगह काटने के निशान है। इस केस हिस्ट्री से वह हैरान है। जिस जहरीले सांप द्वारा सरफराज को काटा जाना बताया जा रहा है उसके जहर का सरफराज पर मामूली असर है। उन्होंने बताया कि सांप काटने वाले व्यक्ति को तुरंत एंटी स्नेक वेनम की आवश्यकता पड़ती है, लेकिन सरफराज को इसकी जरूरत नहीं पड़ी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here