कल से यात्रा सीजन शुरु, दूरसंचार सेवाओं का बुरा हाल

गोपेश्वर : कल से यात्रा का सीजन शुरु होने को है. सरकार पुख्ता इंतजाम की बात कर रही है धाम यात्रा में दूरसंचार सेवाएं अभी भी रोना रो रही है. दूर संचार सेवाएं इस बार भी लोगों को परेशानी का सबब बन सकती है। बदरीनाथ धाम में सेटेलाइट सिस्टम से ही दूरसंचार सेवाएं उपलब्ध हैं। साफ है कि भीड़ होने पर सर्वर की व्यस्तता आम समस्या बनेगी। आज की आवश्यकता इंटरनेट तो यहां पर भगवान भरोसे ही संचालित होगा।

बदरीनाथ धाम में दूरसंचार सेवाएं हाईटेक युग में भी भगवान भरोसे ही संचालित हैं। बदरीनाथ धाम में बीएसएनएल की सेवाएं दूरसंचार की रीढ़ मानी जाती है। लेकिन यहां दूरसंचार सेवाएं सेटेलाइट सिस्टम से संचालित हो रही हैं। सेटेलाइट से बदरीनाथ धाम में मात्र 200 लोग ही एक बार में कॉलिंग कर सकते हैं। यही कारण है कि बदरीनाथ में ऑल रूट आर बिजी प्लीज आफ्टर सम टाइम ही सुनाई देगा। श्री बदरीनाथ धाम में ओएफसी बिछाकर दूरसंचार सेवाओं को दुरुस्त करने की कार्ययोजना संचार निगम की थी। लेकिन सेवाएं रोना रो रही है.

बदरीनाथ धाम में इंटरनेट सेवाओं का बुरा हाल

बदरीनाथ धाम में इंटरनेट सेवाओं का बुरा हाल है। यहां पर कहने को तो दूरसंचार निगम ने थ्री जी की सेवा दी है। लेकिन टूजी भी मिल जाए तो यह गनीमत है। यही कारण है कि बदरीनाथ धाम में आजकल की सबसे महत्वपूर्ण जरूरत इंटरनेट सेवा भगवान भरोसे है। अन्य सेवाओं का भी बुरा हाल

बदरीनाथ धाम में बीएसएनएल के अलावा एयरटेल, वोडाफोन की सेवाएं भी हैं। लेकिन उनकी भी सेवाएं भगवान भरोसे हैं। यहां पर इंटरनेट सेवा तो नाममात्र की है। निजी सेवाओं में जियो रिलायंस ने टावर खड़े किए हैं। लेकिन पिछले वर्ष से ये टावर भी सुचारू नहीं हो पाए हैं। इस वर्ष जियो के सुचारु होने की उम्मीदों से लोगों को संचार सेवाओं की बेहतरी की उम्मीद है। हेमकुंड में भी दूरसंचार का बुरा हाल

दूरसंचार निगम ने इस सेवा को बंद करने का निर्णय लिया

दूरसंचार निगम की लैंडलाइन फोन सेवा बदरीनाथ में बीते दिनों की बात हो गई है। उपभोक्ताओं ने बीएसएनएल की लैंडलाइन सेवा से किनारा कर लिया है। जिससे दूरसंचार निगम ने इस सेवा को बंद करने का निर्णय लिया है। तीन साल पूर्व तक बदरीनाथ में 100 से अधिक लैंड फोन संचालित होते थे। इसके लिए एक्सचेंज स्थापित हुआ था। लेकिन लगातार लैंड फोन सेवा से उपभोक्ताओं के दूर होने के बाद अब बदरीनाथ में यह सेवा बंद कर दी गई है चमोली जिले में बीएसएनएल का बुरा हाल.

बीएसएनएल की मोबाइल व लैंडलाइन सेवा का बुरा हाल

यात्रा रूट पर चमोली जिले के अन्य शहरों में भी बीएसएनएल की मोबाइल व लैंडलाइन सेवा का बुरा हाल है। अक्सर ओएफसी लाइन कटने से फोन व मोबाइल शोपीस बनकर रह गए हैं। हाईवे पर ऑल वेदर रोड के कार्य व अन्य कारणों से ओएफसी कटने से दिक्कतें आ रही हैं। दूरसंचार निगम के अधिकारी खुद इससे परेशान हैं। क्या कहत हैं अधिकारी

बदरीनाथ धाम में बेहतर दूरसंचार सेवाओं के लिए ओएफसी की कार्ययोजना प्रस्तावित है। फिलहाल बदरीनाथ धाम में सेटेलाइट सिस्टम से मोबाइल सेवा संचालित की जा रही है। टूजी व थ्रीजी इंटरनेट सेवा भी उपलब्ध है। लेकिन ज्यादा उपभोक्ता एक साथ ट्राइ करने से दिक्कतें होती हैं। लैंड फोन की सुविधा इस बार उपभोक्ताओं को नहीं मिलेगी। इसके आवेदन फिलहाल नहीं आ रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here