पिता के नक्शेकदम पर चली पहाड़ की बेटी देवांशी, सिडनी में जीता स्वर्ण पदक

डेस्क – उत्तराखंड की देवांशी राणा भी अपने पिता शूटर जसपाल राणा की राह पर चल निकली है। देवांशी ने जूनियर शूटिंग वर्ल्ड कप में भारत के लिये दूसरा स्वर्ण पदक जीत लिया है।
गौरतलब है कि देवांशी राणा के पिता पद्मश्री जसपाल राणा भी निशानेबाजी में  गोल्डन ब्वॉय के नाम से मशहूर हो चुके हैं।
बहरहाल देवांशी राणा ने अपने पहले ही अंतरराष्ट्रीय टूर में धमाल मचा दिया है। सिडनी, ऑस्ट्रेलिया में चल रहे वर्ल्ड कप में देवांशी ने टीम स्पर्धा का दूसरा स्वर्ण पदक अपनी झोली में डाला। मंगलवार देर रात खेले गए 25 मीटर स्पोर्ट्स पिस्टल टीम स्पर्धा में उन्होंने स्वर्ण पदक अपने नाम किया।
उत्तरांचल स्टेट राइफल संघ के प्रेस सचिव आनंद सिंह रावत ने बताया कि भारतीय टीम में तीन महिला शूटर प्रतिभाग कर रही थीं, जिनमें से एक दून निवासी देवांशी भी शामिल थीं। व्यक्तिगत स्पर्धा में वह फाइनल राउंड में प्रवेश नहीं कर पाईं।
वर्ल्ड कप में देवांशी का यह दूसरा स्वर्ण पदक है। इससे पहले वे 10 मीटर एयर पिस्टल की टीम स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीत चुकी हैं। इस उपलब्धि पर उत्तरांचल स्टेट राइफल संघ के अध्यक्ष व देवांशी के दादा नारायण सिंह राणा समेत निशानेबाजी स्पर्धा के कई नामी खिलाड़ियों ने देवांशी को बधाई और शुभकामना दी है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here