ट्रेन-वैन की टक्कर में 13 बच्चों की मौत, चालक ने लगा रखा था कान में ईयर फोन

उत्तर प्रदेश में कुशीनगर जिले के दुदुई रेलवे स्टेशन के नजदीक मानव रहित क्रासिंग पर आज सुब​ह एक स्कूल वैन के गोरखपुर पैसेंजर ट्रेन (55075) की चपेट में आ गयी.जिससे 13 बच्चों की मौके पर ही मौत हो गयी, जबकि आठ अन्य घायल हो गये। ये बच्चे डिवाइन पब्लिक स्कूल के छात्र थे।

चालक ने लगा रहा था ईयरफोन

चालक ने कान में ईयर फोन लगा रखा था और उसने ट्रेन की आवाज नहीं सुनी। बस में बच्चे रुकने के लिए चिल्लाते रहे। चालक ने उनकी भी आवाज नहीं सुनी

वैन ड्राइवर को रोकने की कोशिश की लेकिन ड्राइवर ने उसे अनसुना कर दिया

मुख्य जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि क्रासिंग पर एक मानव रहित क्रासिंग मित्र तैनात था। उसने वैन ड्राइवर को रोकने की कोशिश की लेकिन ड्राइवर ने उसे अनसुना कर दिया। चालक ने वैन के निकालने की कोशिश की लेकिन शायद वैन बीच पटरी पर अचानक पहुंच कर बंद हो गयी और यह हादसा हो गया।

मुख्यमंत्री योगी ने  दुख जताया, जांच के आदेश

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने इस हादसे पर दुख व्‍यक्‍त किया है। उन्‍होंने प्रशासन को राहत व बचाव कार्य में जुटने का निर्देश दिया है। साथ ही सीएम ने मृतकों और घायल बच्‍चों के परिजनों 2-2 लाख रुपए की आर्थ‍िक मदद की घोषणा की है। सीएम ने गोरखपुर के कमिश्‍नर को जांच के आदेश भी दिए हैं। मुख्यमंत्री योगी स्वयं घटनास्थल रवाना हो रहे हैं। उन्होंने मामले की जांच के आदेश दे दिये हैं।

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने की मृतकों के परिजन को 2-2 लाख मुआवजा देने की घोषणा

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने सभी मृतकों के परिजन को दो-दो लाख रूपया मुआवजा देने की घोषणा की है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘स्कूली बच्चों के मौत की दुखद खबर मिली है। मैंने वरिष्ठ अधिकारियों को घटना का जांच करने का आदेश दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here